अल्ट्रासाउंड स्टिकर से मिल सकेगी कई घंटों तक शरीर के अंगों की फोटो

0
155

बोस्टन: वैज्ञानिकों की एक टीम ने अल्ट्रासाउंड छोटा करके एक स्टिकर के रूप में बना दिया है। इसे शरीर से चिपका कर बेहतर चिकित्सा निर्णय लेने के लिए कम से कम 48 घंटे तक हृदय, गुर्दे और अन्य अंगों की छवि बनाई जा सकती है।

ADVT

इस अल्ट्रासाउंड स्टिकर का आकर एक डाक टिकट के होता है और पेट और फेफड़ों की निरंतर इमेजिंग के लिए पेट और छाती पर लगाया जा सकता है। कुछ चिकित्सीय स्थितियों, व्यायाम और अन्य समस्याओं के लिए कई घंटों तक शारीरिक अल्ट्रासाउंड की आवश्यकता होती है। इसी तरह, व्यायाम के दौरान हृदय की स्थिति को देखकर डॉक्टर रोग के बारे में बेहतर निर्णय ले सकते हैं।

यह शोध मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (एमआईटी) के जुआन है झाओ और उनके सहयोगियों द्वारा किया गया था, जिसे वे ‘पहनने योग्य इमेजिंग’ कहते हैं। अल्ट्रासाउंड स्टिकर लचीली सामग्री से बना होता है क्योंकि एक ओर इसे गतिमान शरीर से चिपके रहने के लिए डिज़ाइन किया गया है और दूसरी ओर इसे अल्ट्रासाउंड क्षमताओं को बनाए रखना है।

इसे तैयार करने के लिए वैज्ञानिकों ने हार्ड ट्रांसड्यूसर को एक सॉफ्ट एडहेसिव में एम्बेड किया। पैच में एक हाइड्रोजेल भी होता है जो अल्ट्रासाउंड तरंगों को अवशोषित करने में मदद करता है। हाइड्रोजेल को दो लचीले इलास्टोमर्स के बीच रखा जाता है ताकि पूरा सिस्टम सूख न जाए।

प्रयोग में 15 लोगों को छाती, हाथ, गर्दन और पीठ के कृत्रिम अंग दिए गए और एक कमरे में फलों का रस दिया गया उनसे वजन उठाने को कहा गया। कुछ से दौड़ने और साइकिल चलाने का काम लिया गया। इस समय के दौरान स्टिकर लगातार अल्ट्रासाउंड उत्सर्जित कर रहा था और डॉक्टरों ने फेफड़ों, पेट, हृदय और केंद्रीय धमनियों के फैलाव में उल्लेखनीय कमी देखी।

सभी स्टिकर एक तार से जुड़े थे जो डेटा को कंप्यूटर पर भेजकर अल्ट्रासाउंड इमेज बना रहा था। शोधकर्ताओं का मानना है कि तारों की आवश्यकता को समाप्त करने के लिए और अधिक शोध की आवश्यकता है।

इसके बावजूद विशेषज्ञों ने इस तकनीक का स्वागत किया है। दिलचस्प बात यह है कि यह प्रक्रिया प्रमाणित सोनोग्राफर की आवश्यकता को समाप्त करती है और भारी अल्ट्रासाउंड की आवश्यकता को समाप्त करती है। इस तरह कोविड-19 के मरीजों के फेफड़ों की निरंतर देखभाल करना संभव होगा और इस तरह चिकित्सा देखभाल में क्रांति आ जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here